Monday, October 3, 2022

MP में होगी 14 हजार शिक्षकों की नियुक्ति, गेस्ट टीचर के दम पर अब और नहीं चलेंगे स्कूल

More articles


MP Government School Teacher Recruitment 2022: मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के युवाओं के लिए बढ़िया खबर है. यहां के प्राइमरी और मिडिल स्कूलों (MP School Jobs) में जल्द ही बंपर पदों पर शिक्षकों (MP Government School Teacher Recruitment 2022) की नियुक्ति होगी. राज्य सरकार (MP Government) करीब 14 हजार पदों पर परमानेंट टीचर्स की नियुक्ति की योजना बना रही है. ये भी जान लें कि ये पद एमपी शिक्षक पात्रता परीक्षा 2018 (MPTET 2018) पास करने वाले कैंडिडेट्स से भरे जाएंगे. स्कूल एजुकेशन डिपार्टमेंट (MP School Education Department) ने इस संबंध में तैयारियां शुरू कर दी हैं.

बढ़ाई गई एमपीटीईटी 2018 की वैधता –

इस काम के लिए एमपी टीईटी टेस्ट 2018 की वैलिडिटी बढ़ाकर अक्टूबर 2022 कर दी गई है और अगर जरूरत पड़ी तो इसे और आगे भी बढ़ाया जा सकता है.

बता दें कि एमपी के स्कूलों में एक लाख से अधिक शिक्षकों की कमी प्राइमरी और मिडिल लेवल पर है. इससे छात्रों की पढ़ाई प्रभावित होती है.

अतिथि शिक्षकों से चलाया जा रहा है काम –

इस कमी को पूरा करने के लिए विभाग द्वारा 20 हजार गेस्ट टीचर्स की नियुक्ति की जा रही है लेकिन इससे काम नहीं चल रहा है. इसलिए 14 हजार शिक्षकों की भर्ती का फैसला किया गया है.

कहां कितने शिक्षक –

इस भर्ती प्रक्रिया के तहत उच्च माध्यिक स्कूल में सात हजार और माध्यमिक स्कूल में पांच हजार शिक्षकों की भर्ती की जाएगी. इनकी भर्ती के लिए प्रक्रिया क्या होगी इस संबंध में फैसला आना अभी बाकी है. वर्तमान में स्कूल अतिथि शिक्षकों के भरोसे ही चल रहे हैं. पहले से 40 हजार अतिथि शिक्षक काम कर रहे हैं और 20 हजार की नियुक्ति और की जा रही है. ये संख्या 60 हजार पहुंचने के बाद भी 40 हजार शिक्षकों की कमी है.

यह भी पढ़ें:

SSC Delhi Police Driver Bharti: एसएससी दिल्ली पुलिस ड्राइवर पदों पर शुरू हुई भर्ती, 1411 वैकेंसीज के लिए इस तारीख के पहले करें अप्लाई 

Uttarakhand Colleges: उत्तराखंड के गवर्नमेंट कॉलेजों में अब बायोमेट्रिक होगी हाजिरी, स्टूडेंट्स को लगना होगा अंगूठा 

Education Loan Information:
Calculate Education Loan EMI



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest