Korba: जींस पैंट के लिए भाई ने दोस्तों के साथ मिलकर लात-घूंसे और पत्थर से पीटा, पुलिस के पास भागकर बचाई जान

0
48


कोरबा में पिटाई से घायल युवक।
– फोटो : संवाद न्यूज एजेंसी

ख़बर सुनें

छत्तीसगढ़ के कोरबा में एक जींस पैंट के लिए एक युवक ने अपने ही सगे भाई को दोस्तों के साथ मिलकर बुरी तरह से पीटा। आरोपियों ने लात-घूंसे और पत्थर से युवक पर हमला कर दिया। इसके बाद किसी तरह से उसने पुलिस के पास भागकर अपनी जान बचाई। युवक की गलती सिर्फ इतनी थी कि उसने अपने भाई की पैंट पहन ली थी। फिलहाल उसने भाई और उसके दोस्तों के खिलाफ मामला दर्ज कराया है। 

जानकारी के मुताबिक, कोरबा नगर में उमेंद्र सोनवानी अपनी मां के साथ रहता है और पार्टियों में कामकाज करता है। जबकि उमेंद्र का भाई अजय चांपा में रहता है। वह रविवार को अपने दो दोस्तों के साथ घर आया था। इस दौरान गलती से उमेंद्र ने अजय की जींस पैंट पहन ली। आरोप है कि इसके बाद अजय और उसके दोस्तों ने उमेंद्र पर हमला कर दिया। उसे लात-घूंसों और पत्थर से बुरी तरह से पीटा। 

उमेंद्र ने पुलिस को बताया कि जब उसकी मां पहुंची तो वह लहूलुहान हो चुका था। किसी तरह से मां ने बीच-बचाव  किया। इस पर वह  जान बचाकर भागा और मानिकपुर पुलिस चौकी पहुंचा। उमेंद्र के हाथ, कमर और पैर में चोटें आई हैं। उसने अपने भाई अजय और उसके दोस्तों के खिलाफ मामला दर्ज कराकर कार्रवाई की मांग की है। चौकी प्रभारी प्रहलाद राठौर ने बताया कि मामले की जांच कर रहे हैं। 

विस्तार

छत्तीसगढ़ के कोरबा में एक जींस पैंट के लिए एक युवक ने अपने ही सगे भाई को दोस्तों के साथ मिलकर बुरी तरह से पीटा। आरोपियों ने लात-घूंसे और पत्थर से युवक पर हमला कर दिया। इसके बाद किसी तरह से उसने पुलिस के पास भागकर अपनी जान बचाई। युवक की गलती सिर्फ इतनी थी कि उसने अपने भाई की पैंट पहन ली थी। फिलहाल उसने भाई और उसके दोस्तों के खिलाफ मामला दर्ज कराया है। 

जानकारी के मुताबिक, कोरबा नगर में उमेंद्र सोनवानी अपनी मां के साथ रहता है और पार्टियों में कामकाज करता है। जबकि उमेंद्र का भाई अजय चांपा में रहता है। वह रविवार को अपने दो दोस्तों के साथ घर आया था। इस दौरान गलती से उमेंद्र ने अजय की जींस पैंट पहन ली। आरोप है कि इसके बाद अजय और उसके दोस्तों ने उमेंद्र पर हमला कर दिया। उसे लात-घूंसों और पत्थर से बुरी तरह से पीटा। 

उमेंद्र ने पुलिस को बताया कि जब उसकी मां पहुंची तो वह लहूलुहान हो चुका था। किसी तरह से मां ने बीच-बचाव  किया। इस पर वह  जान बचाकर भागा और मानिकपुर पुलिस चौकी पहुंचा। उमेंद्र के हाथ, कमर और पैर में चोटें आई हैं। उसने अपने भाई अजय और उसके दोस्तों के खिलाफ मामला दर्ज कराकर कार्रवाई की मांग की है। चौकी प्रभारी प्रहलाद राठौर ने बताया कि मामले की जांच कर रहे हैं। 





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here