Tuesday, October 4, 2022

INDW vs SLW: हरमनप्रीत के सामने मिताली की जगह भरने का चैलेंज, श्रीलंका के खिलाफ बनाई खास योजना

More articles


Image Source : GETTY
Captains Chamari Athapaththu and Harmanpreet Kaur

Highlights

  • भारत और श्रीलंका की महिला टीमों के बीच शुक्रवार को पहला वनडे मैच
  • पहली बार बतौर फुल टाइम कप्तान मैदान में उतरेंगी हरमनप्रीत कौर
  • हरमनप्रीत कौर के सामने मिताली राज की जगह भरने का चैलेंज

हरमनप्रीत कौर वनडे इंटरनेशनल में डेब्यू करने के 13 साल बाद एक नई शुरुआत करने जा रही हैं। वह बतौर फुल टाइम कप्तान करियर के पहले वनडे मैच में भारतीय महिला टीम की कमान संभालने जा रही हैं। हरमनप्रीत की कप्तानी में भारतीय महिला क्रिकेट टीम शुक्रवार को पल्लीकल में श्रीलंका के खिलाफ सीरीज का पहला वनडे मैच खेलेगी। इस खास मुकाबले से पहले भारतीय कप्तान ने अपनी मंशा और लक्ष्य जाहिर कर दिए हैं।

फील्डिंग और फिटनेस को बेहतर बनाना है टारगेट   

मिताली राज के इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास के बाद फुल टाइम कप्तान बनी हरमनप्रीत ने कहा कि वह अपनी टीम की फिटनेस और फील्डिंग के स्तर में सुधार चाहती हैं। श्रीलंका के खिलाफ तीन मैचों की सीरीज बतौर वनडे कप्तान उनकी पहली चुनौती है।

इस मुकाबले की पूर्व संध्या पर हरमनप्रीत ने कहा,‘‘ मैंने टीम के लिये लक्ष्य तय किए हैं और इसमें फिटनेस सबसे अहम है। स्किल डेवलपमेंट के लिए हमारे पास कोच हैं लेकिन मैं फिटनेस के लिये खुद अपने खिलाड़ियों के सामने मिसाल पेश करना चाहती हूं। फिटनेस और फील्डिंग में सुधार की जरूरत है। अगर ऐसा हो गया तो आप बेस्ट टीम बन सकते हैं।’’

फुल टाइम वनडे कप्तान बनने का नहीं कोई दबाव

हरमनप्रीत काफी समय से टी20 टीम की कप्तान हैं, कप्तानी का अच्छा खासा अनुभव रखने वाली हरमनप्रीत का कहना है कि उन्हें कप्तानी में मजा आता है और फुल टाइम कप्तान बनने का उनपर कोई एक्स्ट्रा प्रेशर नहीं है। उन्होंने कहा,‘‘ जब मैं कप्तानी कर रही होती हूं तो खेल से ज्यादा कनेक्टेड फील करती हूं । इससे मेरा आत्मविश्वास बढता है। मैदान पर टीम को लीड करने का स्किल मेरे भीतर कुदरती है।’’

खिलाड़ियों को आजादी देना जरूरी

मिताली राज के रिटायर होने के बाद हरमनप्रीत ने कहा था कि अब टीम और उनके लिए आगे बढ़ना आसान होगा। साथ ही उन्होंने लीडरशिप को लेकर अपने और मिताली के विचार में रहे अंतर के बारे में भी काफी कुछ कहा था। श्रीलंका के खिलाफ पहले वनडे से पहले हरमनप्रीत से उनकी कप्तानी से जुड़े मिजाज के बारे में पूछा गया। उन्होंने कहा, “अगर मैं कप्तान के तौर पर खेल का आनंद लूंगी तो बाकी भी लेंगे। खिलाड़ियों को आजादी देने पर प्रदर्शन बेहतर होता है और यही मेरा लक्ष्य है।”

हरमनप्रीत के सामने मिताली की खाली जगह को भरने का बड़ा चैलेंज है। भारतीय महिला टीम की नई वनडे कप्तान अपने लक्ष्य में कितनी सफल होती हैं और श्रीलंका के खिलाफ पहले वनडे में वह क्या नतीजे लेकर आती हैं इस पर सबकी नजर होगी।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest