Tuesday, October 4, 2022

हजारीबाग: जच्चा-बच्चा की मौत पर भड़के BJP नेता, कहा- ना जाने कब राज्य के मुखिया की नींद खुलेगी

More articles


Mother And Child Death In Hazaribagh Medical College: झारखंड (Jharkhand) के हजारीबाग मेडिकल कॉलेज (Hazaribagh Medical College) में चिकित्सा व्यवस्था का बुरा हाल है और इसकी बानगी भी देखने को मिली है. हजारीबाग मेडिकल कॉलेज में इलाज के अभाव में जच्चा-बच्चा दोनों की मौत हो गई है. मामले को लकेर परिजनों ने गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि, एक भी डॉक्टर मौके पर मौजूद नहीं थे और प्रसव पीड़ा से कराह रही महिला का प्रसव तो हुआ लेकिन तब तक बच्चा और जच्चा दोनों की मौत (Death) हो गई. परिजनों ने लापरवाही का आरोप लगाते हुए हंगामा भी किया. 

BJP ने सरकार पर साधा निशाना
इस हादसे की सूचना मिलने के बाद सदर विधायक मनीष जयसवाल भी मौके पर पहुंचे और मामले की जानकारी ली. उन्होंने घटना पर दुख जताया और अस्पताल की लापरवाही को लेकर जिम्मेदारों को जमकर खरी खोटी सुनाई. इस बीच राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी (BJP) नेता बाबूलाल मरांडी ने मामले को लेकर हेमंत सरकार पर निशाना साधा है.

‘मुखिया की कब नींद खुलेगी’
बाबूलाल मरांडी (Babulal Marandi) ने ट्वीट कर कहा कि, ”झारखंड में स्वास्थ्य विभाग की ऐसी कुव्यवस्था कब तक? कल हज़ारीबाग मेडिकल कॉलेज अस्पताल में महिला डॉक्टर के न होने से जच्चा-बच्चा दोनों की मौत हो गई. बड़े-बड़े वादे करने वाले राज्य सरकार के लिए इससे शर्मनाक और क्या हो सकती है? न जाने ऐसी खबरों पर राज्य के मुखिया की कब नींद खुलेगी?” 

लापरवाही के चलते हुई मौत 
बता दें कि, ये पूरा मामला सदर विधानसभा के दारू प्रखंड स्थित झुमरा का है, जहां से इलाज के लिए परिजन प्रसव पीड़ा होने पर महिला को मेडिकल कॉलेज लेकर आए थे, लेकिन, लापरवाही के चलते जच्चा-बच्चा दोनों की मौत हो गई.

ये भी पढ़ें:

Deoghar: वैद्यनाथ धाम में पूजा करने वाले देश के पहले प्रधानमंत्री होंगे PM नरेंद्र मोदी, जानें बड़ी बात

Jamshedpur: पद्मश्री छुटनी महतो के जीवन पर बनेगी वेब सीरीज, कभी डायन बताकर किए गए थे बेइंतहा जुल्म





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest