Wednesday, October 5, 2022

सौरव गांगुली के जन्मदिन पर सचिन तेंदुलकर ने सुनाई कहानी, बताया- कैसे ‘दादा’ को मिली थी कप्तानी

More articles


Image Source : INDIA TV
सौरव गांगुली का 50वां जन्मदिन

Highlights

  • सौरव गांगुली ने मनाया 50वां जन्मदिन
  • दादा के बर्थडे पर खास दोस्त सचिन तेंदुलकर ने सुनाई कप्तानी मिलने की कहानी
  • गांगुली ने इंग्लैंड में सचिन समेत बीसीसीआई के सदस्यों के साथ मनाया जन्मदिन

Sourav Ganguly Birthday: भारतीय क्रिकेट टीम के सबसे सफल कप्तानों में से एक और मौजूदा बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली 8 जुलाई 2022 को 50 वर्ष के पूरे हो गए। उन्होंने इंग्लैंड में जन्मदिन सेलिब्रेट किया। इस मौके पर उनके साथी क्रिकेटर रहे उनके खास दोस्त सचिन तेंदुलकर भी वहां मौजूद रहे। इस ग्रैंड सेलिब्रेशन से पहले सचिन ने मीडिया से बातचीत की और दादा के जन्मदिन पर उनसे जुड़े कई किस्से भी बताए। सौरव चंडीदास गांगुली का जन्म 8 जुलाई 1972 को कलकत्ता (अब कोलकाता) में हुआ था।

सौरव गांगुली और सचिन तेंदुलकर की जोड़ी ओपनिंग में काफी सफल साबित हुई। दादा ने मास्टर ब्लास्टर के साथ खूब तहलका मचाया। दोनों की जोड़ी ने भारत के लिए 136 पारियों में ओपनिंग करते हुए 21 शतकीय (कुल 26 शतकीय) और 23 अर्धशतकीय साझेदारियां कीं। इस जोड़ी ने 49 से अधिक की औसत से 6609 रन ओपनिंग करते हुए एकसाथ बनाए। इतना ही नहीं इस जोड़ी ने वनडे में सबसे ज्यादा बार 150 से ज्यादा रनों की साझेदारी का वर्ल्ड रिकॉर्ड भी अपने नाम किया हुआ है।

कैसे मिली सौरव गांगुली को टीम इंडिया की कप्तानी?

सचिन तेंदुलकर ने बताया कि, 1999 में ऑस्ट्रेलिया दौरे पर मैंने तय कर लिया था कि मेरे कप्तानी छोड़ने पर अगला कप्तान कौन होगा। मास्टर ब्लास्टर ने बताया कि,‘‘ कप्तानी छोड़ने से पहले भारतीय टीम के ऑस्ट्रेलिया दौरे पर मैंने सौरव को टीम का उपकप्तान बनाने का सुझाव दिया था। मैंने उसे करीब से देखा था और उसके साथ क्रिकेट खेली थी। मुझे पता था कि वह भारतीय क्रिकेट को आगे ले जा सकता है। वह अच्छा कप्तान था। इसके बाद सौरव ने मुड़कर नहीं देखा और उसकी उपलब्धियां हमारे सामने है।’’ गांगुली ने पहली बार भारत के लिए 1992 में खेला और फिर 1996 में वापसी की।

Sourav Ganguly 50th Birthday: गांगुली ने सचिन, जय शाह समेत अन्य दोस्तों के साथ मनाया 50वां जन्मदिन, देखें Photos

दादा के करियर पर एक नजर

सौरव गांगुली ने 1992 से 2008 तक भारतीय क्रिकेट की सेवा की। मौजूदा समय में भी वह बीसीसीआई के प्रमुख हैं। उन्होंने भारत के लिए 18585 इंटरनेशनल रन बनाए। उनके नाम 113 टेस्ट में 7212 और 311 वनड मैचों में 11363 रन दर्ज हैं। आईपीएल में भी दादा ने कमाल दिखाया और शुरुआती सीजन में केकेआर फिर सहारा पुणे वॉरियर्स के लिए भी खेलते नजर आए। उनके नाम 59 आईपीएल मैचों में 1349 रन दर्ज हैं। वह बल्लेबाजी के अलावा कई बार अपनी गेंदबाजी से भी विरोधी टीम को पस्त कर देते थे। उनके नाम 32 टेस्ट, 100 वनडे और 10 आईपीएल विकेट भी दर्ज हैं।

window.addEventListener('load', (event) => { setTimeout(function(){ loadFacebookScript(); }, 7000); });



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest