Wednesday, October 5, 2022

लंबित मर्ग प्रकरणों की समीक्षा बैठक: आईजी ने कहा थानों में रखे बिसरा परीक्षण के लिए भेजें, मर्ग जांच पर लापरवाही बर्दाश्त नहीं

More articles


बिलासपुर5 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

बैठक में कहा नवविवाहिता की मौत से संबंधित प्रकरणों की जांच संवेदनशीलता से करें‎।

आईजी रतन लाल डांगी ने सोमवार को लंबित मर्ग प्रकरणों की समीक्षा बैठक में उपस्थित पुलिस अधिकारियों से साफ तौर पर कहा कि थाने में रखे बिसरा तत्काल परीक्षण के लिए भेजें। मर्ग जांच में किसी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। बैठक में रेंज भर के पुलिस अधिकारी शामिल थे। बैठक में विभिन्न बिन्दुओं पर चर्चा की गई।

आईजी ने खासकर इस बात पर विशेष बल दिया कि मर्ग प्रकरणों में जब्त बिसरा थाने व चौकी में काफी लंबे समय से पड़े रहते हैं। उन्होंने इन्हें बिना देर किए परीक्षण के लिए भेजने व रिपोर्ट मिलने पर प्रकरणों का निराकरण करने के लिए कहा। उन्होंने खासकर नवविवाहिता के केस की जांच संवेदनशीलता से करने के निर्देश दिए।

थाना चौकी में मर्ग प्रकरण जिनमें समय पर पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलने में परेशानी हो रही हो अथवा लंबा समय बीत जाने के बाद भी रिपोर्ट नहीं मिल पा रहे हो, तो ऐसे प्रकरणों को कलेक्टर के आयोजित टीएल मीटिंग में आवश्यक रूप से साझा करने के लिए कहा। उन्होंने तीन माह से अधिक समय के लंबित सभी प्रकरणों की नियमित समीक्षा कर उनका निराकरण करने के निर्देश दिए।

राजपत्रित अधिकारियों से कहा कि वे अपने अधीनस्थ थाना, चौकी के मर्ग जांच, बिसरा जांच की नियमित समीक्षा करें और लिखित निर्देश जारी करें साथ ही अनावश्यक मर्ग प्रकरण रखने वाले प्रभारियों व जांचकर्ताओं का स्पष्टीकरण लेकर उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई करें।

मर्ग प्रकरणों के निराकरण के बाद बिसरा का नष्टीकरण करने के निर्देश दिए। जिनमें एफएसएल रिपोर्ट नहीं मिला हैं, उनकी सूची तैयार कर उनके कार्यालय के माध्यम से संचालक राज्य न्यायालयिक विज्ञान प्रयोगशाला को भेजने के लिए कहा।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest