Friday, September 30, 2022

मेहसाणा में पाकिस्तानी नागरिकों को जारी किए गए वोटर और आधार कार्ड, जांच में जुटी गुजरात पुलिस

More articles


Mehsana Crime News: मेहसाणा जिले में छह पाकिस्तानी नागरिकों को वोटर कार्ड जारी किए जाने और 10 और लोगों को आधार कार्ड मिलने के बाद गुजरात पुलिस ने जांच के आदेश दिए हैं. पुलिस अधीक्षक (एसपी) अचल त्यागी ने मामले की जांच के आदेश दिए हैं. स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप इंस्पेक्टर भावेश राठौड़ ने आईएएनएस को बताया, “यह हमारे संज्ञान में आया है कि पाकिस्तानी नागरिकों को मतदाता और आधार कार्ड जारी किए गए हैं. राजस्व और पुलिस विभाग द्वारा प्राथमिक जांच की जा रही है. एक आवेदन के माध्यम से मेहसाणा ‘ए’ संभाग थाने को भी सूचित किया गया है.”

कानून के अनुसार चलेगा मुकदमा
“प्राथमिक जांच के दौरान यदि कोई पाकिस्तानी नागरिक फर्जी दस्तावेज दाखिल करते हुए और कार्ड प्राप्त करता हुआ पाया जाता है या किसी सरकारी अधिकारी के हाथों कोई सुस्ती पाई जाती है तो एक आपराधिक शिकायत दर्ज की जाएगी और कानून के अनुसार मुकदमा चलाया जाएगा.”

Nupur Sharma Case: गुजरात में नूपुर शर्मा के समर्थन में एक वकील ने लगाया ‘वॉट्सऐप स्टेटस’, मिली जान से मारने की धमकी

नागरिकता के लिए दिए थे आवेदन
अधिकारी ने कहा कि ये पाकिस्तानी परिवार मेहसाणा जिले के कूकास गांव में पिछले सात साल से लंबी अवधि के पर्यटक वीजा पर रह रहे हैं. बाद में उन्होंने भारतीय नागरिकता के लिए आवेदन दायर किया, जो गृह विभाग के पास लंबित हैं. लेकिन इससे पहले कि आवेदनों पर कार्रवाई हो पाती उन्हें मतदाता और आधार कार्ड मिल गए.

इस मामले पर क्या बोले अधिकारी?
राठौड़ ने बताया कि प्राथमिक जांच के दौरान नगर कार्यकारी मजिस्ट्रेट कार्यालय ने पुलिस को सूचित किया कि मतदाता कार्ड जारी करते समय परिवारों ने सभी सरकारी प्रक्रियाओं का पालन किया, जैसे फॉर्म-6 जमा करना, जिसके तहत उन्होंने खुद को भारतीय नागरिक घोषित किया. अधिकारी ने कहा कि यह जांच का विषय है कि किसने उन्हें फॉर्म-6 दाखिल करने के लिए निर्देशित किया और किसने उन्हें भारतीय नागरिक घोषित करने के लिए एक हलफनामा तैयार करने में मदद की.

मजिस्ट्रेट उर्विश वालैंड ने कही ये बात
शहर के प्रभारी कार्यकारी मजिस्ट्रेट उर्विश वालैंड ने स्थानीय मीडिया को बताया, “10 सदस्यों को आधार कार्ड जारी किए गए हैं और पाकिस्तानी नागरिकों को छह मतदाता कार्ड जारी किए गए हैं. हमने उचित प्रक्रियाओं का पालन किया है और सभी दस्तावेज एसओजी पुलिस निरीक्षक को जमा कर दिए गए हैं, हमारे पास छिपाने के लिए कुछ नहीं है.”

ये भी पढ़ें-

Gujarat News: ‘ड्राई स्टेट’ गुजरात में लगातार पकड़ी जा रही शराब, प्रतिबंध हटाने की मांग पकड़ रही जोर



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest