Friday, September 30, 2022

मेडिकल बुलेटिन जारी: राहुल खतरे से बाहर ब्लड व बैक्टीरियल इंफेक्शन का करना पड़ रहा सामना

More articles


बिलासपुर। अपोलो अस्पताल में राहुल की हालत तो खतरे से बाहर है। लेकिन उसे अब ब्लड इंफेक्शन का सामना करना पड़ रहा है। साथ ही पानी में कई दिनों तक पैर के पानी में डूबे रहने से स्किन में बैक्टीरियल इंफेक्शन का सामना राहुल को करना पड़ रहा है। डाक्टरों के छह सदस्यीय टीम राहुल का उपचार कर रही है। इससे धीरे-धीरे उसकी हालत में सुधार आ रहा है। डाक्टरों के मुताबिक कम से कम एक सप्ताह तक उसे निगरानी में रखते हुए इलाज करना होगा। अपोलो अस्पताल के सीनियर कंसलटेंट डा. सुनील कुमार ने बुधवार की सुबह राहुल का हेल्थ बुलेटिन जारी किया। डा. कुमार ने बताया कि राहुल की स्थिति को लेकर डरने की कोई बात नहीं है। पर राहुल के शरीर में कई जगह इंफेक्शन हो गया है। लंबे समय तक शरीर के पानी में डुबे रहने से स्किल गली और मुलायम हो गई।

इसके वजह से कई प्रकार के संक्रामक हमला राहुल के स्किन में हुआ है। इसका बारीकी से इलाज किया जा रहा है। एक बात यह भी है कि ब्लड इंफेक्शन की समस्या से राहुल को जूझना पड़ रहा है। हालाकि इसे भी जल्द ठीक कर लिया जाएगा। लेकिन इसके बाद भी सावधानी बरतते हुए सात दिन के विशेष निगरानी में राहुल को रखने की जरूरत है, क्योंकि कई बार इन इंफेक्शन पर ध्यान नहीं दिया जाता है तो यह इंफेक्शन बढ़ जाता है तब यह मरीज के लिए घातक साबित होता है। लेकिन राहुल के देखरेख विशेषज्ञ डाक्टरों की टीम कर रही है।

पल-पल उसकी शारीरिक जांच कर यह पुष्टि की जा रही है कि उसकी स्थिति सामान्य चल रही है की नहीं। साफ है कि धीरे-धीरे राहुल का स्वास्थ्य सामान्य होते जा रहा है, जो एक बड़ी राहत की बात है। अपोलो अस्पताल प्रबंधन अब गुस्र्वार को राहुल का दूसरा हेल्थ बुलेटिन जारी करेगी

राहुल का हाल जानने अपोलो अस्पताल पहुंचे कमिशनर व आइजी

बिलासपुर। कमिश्नर डा. संजय अलंग एवं आइजी रतनलाल डांगी ने बुधवार को अपोलो अस्पताल का दौरा कर राहुल के स्वास्थ्य का जायजा लिया। लगभग 105 घंटे तक बोरवेल में फंसे जांजगीर जिले के ग्राम पिहरीद निवासी राहुल साहू का अत्याधुनिक एवं सर्वसुविधायुक्त अपोलो अस्पताल में विशेषज्ञ डाक्टरों की निगरानी में इलाज चल रहा है। आज यहां अस्पताल में राहुल के स्वास्थ्य की जानकारी लेने संभागायुक्त डा. संजय अलंग एवं आइजी रतन लाल डांगी पहुंचे। उन्होंने इलाज कर रहे डाक्टरों से चर्चा कर उनके स्वास्थ्य एवं इलाज की जानकारी ली और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देशों के अनुरूप बेहतर से बेहतर चिकित्सा सुविधा मुहैया कराने के निर्देश दिए।

उन्होंने अस्पताल में राहुल के माता-पिता व स्वजनों से भी मुलाकात कर उन्हें ढांढस बंधाया। संभागायुक्त डा. अलंग ने राहुल के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना करते हुए कहा कि राहुल ने बहुत हिम्मत दिखाई। गौरतलब है कि राहुल साहू को मंलगवार रात 80 फीट गहरे बोरवेल से सुरक्षित रूप से निकाल लिया गया। ग्रीन कारीडोर बनाकर उसे देर रात अपोलो अस्पताल लाया गया। बाल रोग विशेषज्ञ डा. सुशील कुमार ने बताया कि राहुल की स्थिति अभी स्थिर है और वह खाना खा रहा है।

Posted By: Yogeshwar Sharma

 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest