Tuesday, October 4, 2022

बिलासपुर में वनकर्मी को बोनस का झांसा देकर 20 लाख की धोखाधड़ी के आरोपित गिरफ्तार

More articles


बिलासपुर। सिविल लाइन पुलिस ने वनकर्मी को 80 हजार स्र्पये बोनस का लालच देकर धोखाधड़ी करने वाले तीन युवकों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपित के बैंक खातों में जमा रकम को होल्ड कराया है। वहीं, उनके कब्जे से चेकबुक और पासबुक भी जब्त की गई है। सिविल लाइन क्षेत्र के मगरपारा में रहने वाले विनोद धु्रव वन विभाग के कर्मचारी हैं। उन्होंने दो जून को धोखाधड़ी की शिकायत की है। पीड़ित ने बताया कि चार नवंबर 2021 को उनके मोबाइल पर अनजान नंबर से काल आया।

फोन करने वाले ने उन्हें बीमा पालिसी में 80 हजार स्र्पये बोनस मिलने की बात कही। बोनस की राशि को उनके खाते में जमा करने के लिए 30 हजार स्र्पये की मांग की। वनकर्मी ने उनके बताए खाते में 30 हजार स्र्पये जमा करा दिए। साथ ही अपनी पत्नी इंदु धु्रव के नाम से भी बीमा करने की बात कही। इस पर जालसाजों ने उनकी पत्नी को भी एक लाख 20 हजार स्र्पये बोनस मिलने की बात कही।

इसके लिए उन्होंने 95 हजार की मांग की। इस पर वनकर्मी ने उनके बताए खाते में आनलाइन स्र्पये जमा करा दिए। जालसाज अलग-अलग बहानों से स्र्पये मांगते रहे। वनकर्मी ने करीब 25 लाख स्र्पये अलग-अलग कर जालसाजों के बताए खाते में जमा करा दिए। छह महीने तक जालसाज उनके जमा कराए स्र्पये और बोनस की राशि एकमुश्त मिलने की बात कहते रहे। बाद में धोखाधड़ी की आशंका होने पर मामले की जानकारी उन्होंने सिविल लाइन पुलिस को दी। इस पर पुलिस जुर्म दर्ज कर जांच कर रही थी।

जांच के दौरान पुलिस को पता चला कि आरोपित दिल्ली के रहने वाले हैं। इस पर पुलिस की टीम दिल्ली के रोहणी क्षेत्र में दबिश देकर शाहबाज आलम(30), प्रिंस कुमार सिंह(22) व अर्पित कुमार श्रीवास्तव(25) को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने आरोपित के कब्जे से 15 चेक बुक, पांच पासबुक, मोबाइल और कंप्यूटर जब्त किया है। इसके अलावा उनके बैंक खातों को होल्ड कर दिया गया है।

Posted By: Abrak Akrosh

 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest