Tuesday, October 4, 2022

बिलासपुर में नर्स ने फांसी लगाकर दे दी जान: कमरे में फंदे पर लटकती मिली लाश, प्रेम प्रसंग के चलते खुदकुशी करने की आशंका, मोबाइल से खुलेगा आत्महत्या का राज

More articles


बिलासपुरएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

कमरे का दरवाजा बंद कर लगा थी फांसी।

बिलासपुर में प्राइवेट अस्पताल में काम करने वाली नर्स ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। ड्यूटी के दौरान वह एक दिन पहले अपने मोबाइल से किसी से बात करते हुए रो रही थी और मानसिक तनाव में थी। ऐसे में पुलिस को शक है कि प्रेम प्रसंग के चलते नर्स ने यह आत्मघाती कदम उठाया होगा। पुलिस ने जांच के लिए उसके मोबाइल को जब्त किया है। मोबाइल की जांच से उसके आत्महत्या के कारणों का पता चल सकेगा। मामला सिविल लाइन थाने का है।

जानकारी के अनुसार कोटा थाना क्षेत्र के बड़े बरर निवासी ललिता ध्रुव (22 साल) सकरी क्षेत्र के प्राइवेट हॉस्पिटल में नर्स थीं। वह मंगला स्थित बृजविहार कॉलोनी में किराए के मकान में रहती थी। रविवार की शाम वह ड्यूटी से किराए के रूम में पहुंची। इसके बाद कमरे का दरवाजा बंद कर दी। इसके बाद उसके साथ काम करने वाली रूम पार्टनर ड्यूटी से वापस आई, तब दरवाजा अंदर से बंद मिला।

आवाज लगाने पर नहीं खुला दरवाजा, मोबाइल भी रिसीव नहीं की
रूम पार्टनर युवती ने उसका दरवाजा खुलवाने के लिए काफी देर तक आवाज दी। इसके बाद मोबाइल से भी कॉल करती रही। मोबाइल रिसीव नहीं होने पर उसके शक हुआ। तब उसने आसपास के लोगों को इस घटना की जानकारी दी। इसके साथ ही उसके उसके बड़े भाई नेपाल सिंह को भी बुलाया गया। उनकी मौजूदगी में कमरे का दरवाजा धक्का देकर खोला गया। तब अंदर कमरे में ललिता का शव फांसी के फंदे पर लटक रहा था।

पुलिस ने मोबाइल जब्त कर कमरे को किया सील
ललिता के भाई नेपाल सिंह ने इस घटना की जानकारी सिविल लाइन थाने में दी। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई। सोमवार की सुबह शव का पंचनामा कार्रवाई कर पुलिस ने कमरे को सील कर दिया। ललीता के मोबाइल को भी पुलिस ने जब्त किया है।

एक दिन पहले फोन पर रो रही थी नर्स
TI परिवेश तिवारी ने बताया कि पुलिस की पूछताछ और जांच में पता चला है कि प्रेम प्रसंग के चलते युवती ने आत्महत्या की होगी। पूछताछ में पुलिस को जानकारी मिली है कि एक दिन पहले वह मोबाइल में किसी से बात करते हुए रो रही थी। ललिता बीते कुछ दिनों से मोबाइल पर किसी से लगातार बात करती थी और मानसिक तनाव में भी थी। TI तिवारी ने बताया कि साइबर सेल की मदद से मोबाइल की जांच की जाएगी। इसके बाद ही आत्महत्या के कारणों का पता चल सकेगा।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest