Sunday, October 2, 2022

बिलासपुर में कोरोना टेस्टिंग व ट्रेसिंग पर जोरसंक्रमण बढ़ने का डर

More articles


Publish Date: | Sun, 12 Jun 2022 02:46 PM (IST)

बिलासपुर। जिला तो कोरोना महामारी की स्तिथि अब बिगड़ने लगी है। धीमे रफ्तार में संक्रमण बढ़ रहा है। वही अन्य जिले में संक्रमण की रफ्तार तेज होती जा रही है। ऐसे में जिला स्तर पर भी इससे निपटने के लिए नियंत्रण कार्य में तेजी ला दी गई है। सीएमएचओ के निर्देश पर एक बार फिर कोरोना टेस्टिंग व ट्रेसिंग शुरू कर दी गई है। अगर इस दौरान कोई भी कोरोना से संक्रमित मिलता हैं तो तत्काल मरीज के इलाज करने कहा गया है। विशेषज्ञों के मुताबिक सावधानी नहीं बरती गई तो एक बार फिर संक्रमण के मामले बढ़ सकते है। इसको देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने अलग से कोरोना सैंपलिंग व ट्रेसिंग टीम को तैयार कर लिया है।

जो भी संदेहियों का सैंपल लेने के काम में जुट गई है। हालांकि यह भी कहना है कि ज्यादातर का कोरोना टीकाकरण हो चुका है और वे कोरोना को लेकर सुरक्षा दायरे में चल रहे है। लेकिन इसके बाद भी इसके दुष्परिणाम को दरकिनार नहीं किया जा रहा है। केंद्र सरकार के निर्देश के बाद स्वास्थ्य विभाग अलर्ट मोड में आ चुका है। सरकारी कोविड अस्पतालों को अपडेट कर दिया गया है। वही निजी कोविड अस्पताल को आपातकाल में तैयार रहने कह दिया गया है।

कोरोना ड्यूटी में फिर से वापस हो रहे कर्मी

स्वास्थ्य कर्मियों को फिर से कोरोनानियंत्रण में ड्यूटी लगाया जा रहा है। इसी के तहत कोरोना जांच सेंटर भी खोले जा रहे है। वही अब स्वास्थ्य विभाग ने सैंपलिंग और ट्रेसिंग टीम भी तैयार कर लिया है। जो अब सूचना मिलते ही सैंपल लेने के साथ मरीज के संपर्क में आने वालों का भी कोरोना जांच कर उपचार की व्यवस्था करेगी।

मौजूदा स्थिति में जिले में 23 मरीज

मौजूदा स्थिति में जिले में कोरोना के 23 मरीज सक्रिय है। जिनके स्थिति सामान्य है। बीते एक सप्ताह से जिले में संक्रमण ने रफ्तार पकड़ा है। जिले में कोरोना पूरी तरह से काबू में चल रहा है। लेकिन आने वाले दिन संवेदनशील हो सकता है। ऐसी में इससे लड़ने की तैयारी अभी से पूरी कर ली गई है।

भर्ती मरीजों का कोरोना जांच शुरू

स्वास्थ्य विभाग ने यह भी निर्देश दिया है कि सरकारी अस्पताल में भर्ती सभी मरीज का कोरोना टेस्ट किया जाए। वही सिम्स व जिला अस्पताल में सर्दी-खांसी, बुखार के पहुचने वाले मरीजों का लक्षण के आधार पर भी कोरोना टेस्ट किया जा रहा है।

जिले में कोरोना की स्थिति नियंत्रण है। लेकिन लापरवाही के गंभीर परिणाम बढ़ते मामले के रूप में आ सकते है। इसको देखते हुए अभी से तैयारी कर ली गई है। नियंत्रण के काम में गति ला दिया गया है।

डा. प्रमोद महाजन, सीएमएच

Posted By: Yogeshwar Sharma

 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest