Friday, September 30, 2022

प्रभु जगन्नाथ के जयकारों से गूंजा भिलाई टाउनशिप: अकर्षक रथ में सवार होकर निकली भगवान की यात्रा, भक्तों ने घंटे, शंख व ढोल बजाकर किया स्वागत

More articles


भिलाई11 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

प्रभु जगन्नाथ की रथ यात्रा

भगवान जगन्नाथ अपने बड़े भाई बलभद्र और बहन सुभद्रा के साथ अपनी मौसी के घर के पहुंच गए। इस मौके पर प्रभु की भव्य शोभायात्रा निकाली गई। पूरा भिलाई टाउनशिप भगवान जगन्नाथ के जयकारों से गूंज उठा। इस मौके पर भिलाई नगर विधायक देवेंद्र यादव और भिलाई महापौर नीरज पाल ने रथ यात्रा का अगुवाई की। उन्होंने भगवान के जमकर जयकारे लगवाए।

भिलाई टाउनशिप में शुक्रवार शाम सेक्टर 4 व 6 स्थित जगन्नाथ मंदिर से रथयात्रा निकाली गई। सेक्टर 4 स्थित जगन्नाथ मंदिर का यह 53वां आयोजन था। यहां मंदिर के मुख्य पुजारी पीतवास पाड़ी ने पहले भागवान की विधि विधान से पूजा अर्चना की, उसके बाद रथ यात्रा को रवाना किया गया। इस दौरान भागवान जगन्नाथ के रथ को भव्य रूप से सजाया गया था। जहां-जहां से उनकी रथयात्रा निकलती लोग फूलों की वर्षा कर रहे थे। रथ पर लगे 50 मीटर लंबे रस्से को खींचने के लिए भक्त पूरे उत्साह से आगे आ रहे थे। जहां-जहां से प्रभु की रथ यात्रा निकल रही थी, उसके आग भक्त झाड़ू लगाकर मार्क को साफ कर रहे थे। भाजपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री प्रेम प्रकाश पाण्डेय ने भी भगवान की रथ यात्रा के आगे झाड़ू लगाकर सेवा दी। भिलाई टाउनशिप के मुख्य मार्गों से जहां से भी रथ यात्रा निकली भगवान के एक दर्शन पाने के लिए भक्तों का तांता लगा हुआ था। रथ यात्रा की शोभा को बढ़ाने के लिए खास उड़ीसा से एक टीम बुलाई गई थी। इस टीम के सदस्य पारंपरिक वाद्य यंत्र दुलदुली बजा रहे थे।

इसी तरह सेक्टर 6 स्थित भगवान जगन्नाथ मंदिर से भी प्रभु की शोभा यात्रा निकाली गई। यह शोभा यात्रा भी विभिन्न मार्गों से होती 7 मिलियन चौक पर जाकर मिली। दोनों रथ यात्रा का नजारा देखते ही बन रहा था। हजारों की संख्या में पहुंचे भक्त भगवान देवस्नान पूर्णिमा में खूब नहाने और बीमार पड़ने के बाद महाप्रभू के ठीक होने का जश्न मना रहे थे।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest