Friday, September 30, 2022

पारिवारिक कलह के बाद घर से निकले मां-बेटे को ट्रक ने कुचला, महिला की मौत, घायल बेटा हुआ रेफर

More articles



<p style="text-align: justify;"><strong>गोपालगंज:</strong> बिहार के गोपालगंज जिले के हथुआ थाने के बरवा कपरपुरा गांव के पास गुरुवार को ट्रक ने बाइक सवार मां-बेटे को कुचल दिया. हादसे में बाइक सवार महिला की मौत हो गयी, जबकि मृतक महिला का बेटा गंभीर रूप से घायल है. वहीं, हादसे के बाद ट्रक छोड़कर चालक फरार हो गया. मृतक महिला की पहचान सफरून नेशा के रूप में की गई है, जो हथुआ के खानसामा टोला निवासी शमीम अख्तर की 40 वर्षीय पत्नी थी. घटना की सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और दोनों मां-बेटा को हथुआ अनुमंडलीय अस्पताल भेज दिया. जहां डॉक्टरों ने महिला को मृत घोषित कर दिया, जबकि महिला के घायल पुत्र हाशमी अख्तर को बेहतर इलाज के लिए सदर अस्पताल रेफर कर दिया.</p>
<p style="text-align: justify;">बताया जाता है कि मां-बेटा घर से गोपालगंज के लिए निकले थे. रास्ते में बरवा कपरपुरा गांव के पास जैसे ही पहुंचे सामने से आई ट्रक ने विपरित दिशा में आकर दोनों को टक्कर मार दी, जिससे दोनों बाइक सवार मां-बेटा सड़क पर गिर गए. इसके बाद आसपास के लोग पहुंचे तबतक ट्रक चालक फरार हो गया. स्थानीय लोगों ने हादसे की सूचना पुलिस को दी. पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से दोनों को अस्पताल पहुंचा दिया और दुर्घटनाग्रस्त ट्रक व बाइक को जब्त कर लिया. वहीं, हादसे में मौत की खबर मिलते ही सदर अस्पताल में परिजनों की भीड़ जुट गई. स्थिति को देखते हुए पुलिस ने महिला के शव का पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंप दिया. हथुआ थाने में इस मामले में पुलिस ने मृतका के परिजन के बयान पर ट्रक चालक के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कर जांच पड़ताल शुरू कर दी है.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>ये भी पढ़ें- <a href="https://www.abplive.com/states/bihar/another-shelter-home-case-in-muzaffarpur-poor-girls-and-women-were-forced-to-do-dirty-work-inside-the-flat-ann-2158076">मुजफ्फरपुर में एक और ‘शेल्&zwj;टर होम कांड’! फ्लैट के अंदर गरीब लड़क&zwj;ियों और महिलाओं से कराया जाता था ‘गंदा काम'</a><br /></strong></p>
<p style="text-align: justify;"><strong>घर में चल रहा था परिवारिक कलह</strong></p>
<p style="text-align: justify;">हादसे के बाद महिला की मौत हुई तो पूरे परिवार में कोहराम मच गया. परिजनों ने बताया कि परिवार में पहले से परिवारिक कलह चल रहा था. महिला घर से थाने में शिकायत दर्ज कराने के लिए बेटे के साथ निकली थी, लेकिन किसी कारणवश नहीं गई और गोपालगंज के लिए निकल गई. बेटा हाशमी अख्तर बाइक चला रहा था. हादसे के बाद घायल बेटे को डॉक्टर ने खतरे से बाहर बताया है. वहीं, इस मामले में पुलिस ने जांच के बाद सरकार की ओर से मिलने वाली मुआवजा राशि दिलाने का आश्वासन दिया है.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>ये भी पढ़ें- <a href="https://www.abplive.com/states/bihar/arrah-news-dig-suspended-arrah-nagar-police-station-incharge-action-taken-for-not-submitting-chargesheet-on-time-ann-2158316">Arrah News: आरा नगर थानाध्यक्ष को DIG ने किया सस्पेंड, समय पर चार्जशीट समर्पित नहीं करने को लेकर हुई कार्रवाई</a><br /></strong></p>



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest