Monday, October 3, 2022

छूटे लोगों के लिए फिर चलेगा कोविड वेक्सीनेशन महाअभियान

More articles


Publish Date: | Wed, 15 Jun 2022 10:25 PM (IST)

कोरबा (नईदुनिया न्यूज)। कलेक्टर रानू साहू ने शहरी और ग्रामीण इलाकों में खुले हुए तथा अनुपयोगी बोरवेल्स को तत्काल बंद करने कहा है। बुधवार को आयोजित समय-सीमा की खुले हुए बोरवेल्स के कारण किसी अनहोनी या दुर्घटना होने की संभावना को रोकने के लिए ऐसे बोरवेल्स को बंद करने के निर्देश अधिकारियों को दिए है। कोविड टीकाकरण से छूटे हुए लोगों को कोविड वैक्सीनेशन करने के लिए फिर से वैक्सिनेशन महाअभियान चलाने के निर्देश दिये। उन्होने दूसरा डोज लगाने से छूटे हुए लोगों की लिस्टींग करके वैक्सिनेशन ड्राइव के लिए आवश्यक कार्ययोजना बनाने कहा।

कलेक्टर साहू ने जिले में गांववार सर्वे कर खुले बोरवेल्स का पता लगाने तथा उन्हे बंद करने के निर्देश सभी निर्माण एजेंसियों, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग एवं जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों को दिए है। साथ ही इसकी नियमित समीक्षा करने और पालन प्रतिवेदन से अवगत कराने के भी निर्देश दिए है। समय सीमा की समीक्षा बैठक में कलेक्टर ने महिला समूहों द्वारा निर्मित स्थानीय उत्पादों को बढ़ावा देने तथा महिला समूहों को आर्थिक रूप से स्वावलंबी बनाने कोरबा शहर में स्थापित किये जा रहे सी-मार्ट के बारे में भी जानकारी ली। उन्होने सी-मार्ट में उपलब्ध होने वाले उत्पादों की लिस्ट तथा उत्पादों की मूल्य आदि के बारे में जानकारी ली। कलेक्टर ने सी-मार्ट में प्रोडक्ट उपलब्ध कराने वाले वेंडर आदि की जानकारी लेकर समय सीमा में सी-मार्ट के कार्यो को पूर्ण करने के निर्देश दिए। कलेक्टर साहू ने जिले के दो गोठानों में विकसित किए जा रहे रूरल इंडस्ट्रीयल पार्क के कार्यो की प्रगति के बारे में भी जानकारी ली। उन्होने रिपा क्षेत्र में विकसित किए जा रहे शेड निर्माण, मशीनों की स्थापना, बिजली आपूर्ति तथा आर्थिक गतिविधियों के लिए जरूरी संसाधनों के स्थापना के बारे में भी जानकारी ली। कलेक्टर ने रिपा क्षेत्र को तेजी से पूरा करते हुए स्थानीय महिलाओं को आर्थिक गतिविधियों से जोडकर स्वरोजगार के साधन मुहैया कराने के निर्देश दिए। समय-सीमा की साप्ताहिक समीक्षा बैठक में पुलिस अधीक्षक भोजराम पटेल, डीएफओ कोरबा प्रियंका पांडेय, डीएफओ कटघोरा प्रेमलता यादव, जिला पंचायत के सीईओ नूतन कंवर, प्रभारी एडीएम विजेंद्र पाटले, नगर निगम आयुक्त प्रभाकर पांडेय सहित सभी विभागीय अधिकारीगण मौजूद रहे।

खुले में चराई रोकने चलेगा रोका-छेका अभियान

कलेक्टर ने विकासखंड चिकित्सा अधिकारियों तथा स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी-कर्मचारी की बैठक लेकर वैक्सीनेशन ड्राइव की रूपरेखा तैयार करने के निर्देश दिए। आगामी फसल बुवाई के पहले खुले में पशुओं के चराई को रोककर फसलों को पशुओं से बचाने के लिए इस वर्ष भी रोका-छेका कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। इसके अंतर्गत किसान तथा पशुपालक अपने पशुओं को खुले में चराई के लिए नही छोडने का संकल्प लेने तथा पशुओं को गोठानों में रखने का संकल्प लिया जाएगा। रोका-छेका कार्यक्रम के लिए कलेक्टर साहू ने 20 जून तक सरपंच, पंच, जनप्रतिनिधि तथा ग्रामीणों की बैठक लेने के निर्देश अधिकारियों को दिए है।

दिव्यांगों का दिव्यांगता प्रमाण पत्र बनाएं

कलेक्टर साहू ने बैठक में आरबीसी छह- चार के प्रकरणों की भी जानकारी ली। उन्होने इसके अंतर्गत लंबित प्रकरणों को समय सीमा में निराकृत कर पीडित परिवार को लाभांवित करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने जिले में मसाहती गावों की सूची के बारे मे भी जानकारी ली। उनहोने मसाहती गांवों में हुए जमीन रजिस्ट्री की विस्तृत जानकारी देने के निर्देश बैठक में मौजूद अधिकारियों को दिए। कलेक्टर ने जिले के छूटे हुए दिव्यांगों का दिव्यांगता प्रमाण पत्र बनाने तथा उका आनलाइन रजिस्ट्रेशन कर राशन, पेंशन की सुविधाओं से उन्हे लाभांवित करने के भी निर्देश दिए।

बालवाड़ी के लिए आवश्यक कार्ययोजना बनाएं

कलेक्टर ने बैठक में बच्चों और महिलाओं में खून की कमी दूर करने एनिमिया मुक्त भारत अभियान के लिए आवश्यक कार्ययोजना बनाने के निर्देश महिला एवं बाल विकास विभाग तथा स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को दिए। उन्होने जिले में इस वर्ष से संचालित होने वाले बालवाड़ी कार्यक्रम की प्लानिंग के बारे में भी जानकारी ली। साथ ही बालवाड़ी के लिए स्कूलों आंगनबाड़ियों के चयन तथा बालवाड़ी संचालन के लिए आवश्यक कार्ययोजना बनाने के भी निर्देश अधिकारियों को दिए।

Posted By: Nai Dunia News Network

 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest