छत्तीसगढ़ में दौड़ेगी वंदे भारत: बिलासपुर से नागपुर के बीच चलाने की तैयारी, 160 किमी प्रति घंटे की रफ्तार

0
41


सांकेतिक फोटो
– फोटो : संवाद न्यूज एजेंसी

ख़बर सुनें

अगर सबकुछ सही रहा तो जल्द ही छत्तीसगढ़ के यात्री देश की सबसे तेज दौड़ने वाली ट्रेन वंदे भारत के सफर का मजा ले सकेंगे। इस ट्रेन को बिलासपुर से नागपुर के बीच चलाने की तैयारी है। इसका प्रस्ताव बिलासपुर रेल मंडल की ओर से रेलवे बोर्ड को भेजा गया है। बताया जा रहा है कि बोर्ड की ओर से इसे हरी झंडी भी मिल गई है। हालांकि यह पटरी पर कब आएगी, इसे लेकर समय सारिणी तय नहीं की गई है। 

वंदे भारत ट्रेन की रफ्तार 160 किमी प्रति घंटा है। बिलासपुर से नागपुर की दूरी 412 किमी है। ऐसे में यह ट्रेन करीब साढ़े पांच घंटे में सफर पूरा करेगी। फिलहाल रेलवे के इस ट्रैक पर 130 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से ट्रेन दौड़ सकती है। इसे लेकर ट्रायल किया गया था। वहीं जोन अफसरों ने कोचिंग डिपो का निरीक्षण करना शुरू कर दिया है। परिचालन, मैकेनिकल, विद्युत, कमर्शियल विभाग के अधिकारी इसकी तैयारी में जुटे हैं।

पूरी ट्रेन वातानुकूलित श्रेणी की
बताया जा रहा है कि वंदे भारत ट्रेन 52 सेकेंड में 100 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार पकड़ लेती है। इसकी रफ्तार को 200 किलोमीटर प्रति घंटे तक बढ़ाए जाने की योजना है। यह पूरी ट्रेन वातानुकूलित श्रेणी की है। इसमें ऑटोमेटिक गेट लगे हैं। ट्रेन में सिक्योरिटी के लिहाज से सीसीटीवी लगाए गए हैं। लगेज रैक में एलईडी डिफ्यूज लाइट्स लगी हैं, जो अक्सर विमानों में इस्तेमाल होती हैं। 

विस्तार

अगर सबकुछ सही रहा तो जल्द ही छत्तीसगढ़ के यात्री देश की सबसे तेज दौड़ने वाली ट्रेन वंदे भारत के सफर का मजा ले सकेंगे। इस ट्रेन को बिलासपुर से नागपुर के बीच चलाने की तैयारी है। इसका प्रस्ताव बिलासपुर रेल मंडल की ओर से रेलवे बोर्ड को भेजा गया है। बताया जा रहा है कि बोर्ड की ओर से इसे हरी झंडी भी मिल गई है। हालांकि यह पटरी पर कब आएगी, इसे लेकर समय सारिणी तय नहीं की गई है। 

वंदे भारत ट्रेन की रफ्तार 160 किमी प्रति घंटा है। बिलासपुर से नागपुर की दूरी 412 किमी है। ऐसे में यह ट्रेन करीब साढ़े पांच घंटे में सफर पूरा करेगी। फिलहाल रेलवे के इस ट्रैक पर 130 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से ट्रेन दौड़ सकती है। इसे लेकर ट्रायल किया गया था। वहीं जोन अफसरों ने कोचिंग डिपो का निरीक्षण करना शुरू कर दिया है। परिचालन, मैकेनिकल, विद्युत, कमर्शियल विभाग के अधिकारी इसकी तैयारी में जुटे हैं।

पूरी ट्रेन वातानुकूलित श्रेणी की

बताया जा रहा है कि वंदे भारत ट्रेन 52 सेकेंड में 100 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार पकड़ लेती है। इसकी रफ्तार को 200 किलोमीटर प्रति घंटे तक बढ़ाए जाने की योजना है। यह पूरी ट्रेन वातानुकूलित श्रेणी की है। इसमें ऑटोमेटिक गेट लगे हैं। ट्रेन में सिक्योरिटी के लिहाज से सीसीटीवी लगाए गए हैं। लगेज रैक में एलईडी डिफ्यूज लाइट्स लगी हैं, जो अक्सर विमानों में इस्तेमाल होती हैं। 





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here