Tuesday, October 4, 2022

खाद की कमी पर अब किसानों का हंगामा: कृषि विभाग का दफ्तर घेरा, बोले-मार्केट में अधिक दाम में सब मिल रहा, सोसायटी में कुछ नहीं

More articles


जांजगीर-चांपा10 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

बड़ी संख्या में किसान दफ्तर घेरने के लिए पहुंचे थे।

जांजगीर-चांपा जिले में खाद की कमी को लेकर किसान परेशान हैं। उन्हें सोसायटी में खाद और बीज नहीं मिल रहा है। ऐसे में नाराज किसानों ने गुरुवार को कृषि विभाग का दफ्तर ही घेर दिया। उनका कहना था कि मार्केट में सब अधिक दाम में मिल रहा है। लेकिन सोसायटी में है ही नहीं, ऐसा कहा जाता है। किसानों ने पूरे मामले में खाद की कालाबाजारी का आरोप लगाया है।

बड़ी संख्या में किसान कृषि विभाग के दफ्तर का घेराव करने पहुंच गए थे। वो यहां कृषि विभाग के डिप्टी डायरेक्टर एमआर तिग्गा से मुलाकात करने पहुंचे थे। मगर किसानों को एम.आर तिग्गा ने कह दिया कि वह खाद के लिए अधिकृत व्यक्ति नहीं हैं। ऐसे में किसान और नाराज हो गए। किसानों ने कहा कि ये इनकी ही जिम्मेदारी है। हम पहले भी यहां आए थे,लेकिन कोई सुन ही नहीं रहा है।

अधिकारी हमसे ही लिस्ट मांगते हैं

किसानों ने बताया कि हमने जब कालाबाजारी की शिकायत अधिकारियों से की तो वह हमसे ही उन लोगों की सूची मांग रहे हैं जो कालाबाजारी कर रहे हैं। ऐसे में हम खेती करें या प्रशासन का काम। किसानों ने बताया कि बाजार में अधिक रेट में खाद मिल रहा है। यहां से जो हम 250 रुपए में लेते हैं। व्यापारी 500 रुपए से अधिक में बेच रहे हैं। ये ठीक नहीं है, यदि समय पर धान का बीज और खाद नहीं मिलेगा तो हम कहां जाएंगे।

विधायक लगा चुके हैं फटकार

इससे पहले BJP विधायक सौरभ सिंह को सूचना मिली थी कि सरकारी सोसायटी से खाद की आपूर्ति घटाकर व्यापारियों के गोदामों में भेजी जा रही है। इस पर वह निरीक्षण के लिए अकलतरा के रैक पॉइंट पर पहुंच गए थे। उस दौरान अफसर ने कहा दिया था कि हमें 40 फीसदी प्राइवेट में खाद बेचने के निर्देश हैं। इसके बाद विधायक ने अधिकारियों को फटकार भी लगाई थी।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest