Tuesday, October 4, 2022

कोरबा के सरकारी अस्पताल में बवाल: दो गुट भिड़े, युवक को बुरी तरह से पीटा, डॉक्टर और स्टाफ को मारने दौड़े; हड़ताल पर गए कर्मचारी

More articles


कोरबा37 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

आरोपियों की पीटते हुए वीडियो सीसीटीवी में कैद हो गया।

छत्तीसगढ़ के कोरबा स्थित सरकारी अस्पताल में गुरुवार को गैंगवार हो गई। इस दौरान एक युवक घायल हुआ तो अस्पताल में इलाज कराने पहुंच गया। उसके पीछे-पीछे दूसरे गुट के लोग भी आ गए। इस दौरान अस्पताल स्टाफ और डाक्टर ने बीच-बचाव किया तो उन्हें भी मारने के लिए दौड़ा लिया। किसी तरह उन्होंने खुद को कमरे में बंद कर अपनी जान बचाई। सूचना मिलने पर पुलिस पहुंची, लेकिन उससे पहले आरोपी भाग निकले। इसके बाद अस्पताल के कर्मचारी हड़ताल पर चले गए हैं।

रानी धनराज कुंवर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र।

रानी धनराज कुंवर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र।

जानकारी के मुताबिक, पुरानी बस स्टैंड निवासी मुन्ना यादव और शफीक खान दलाली का काम करते हैं। दोनों का गुरुवार को किसी बात को लेकर विवाद हो गया। बताया जा रहा है कि पहले दोनों गुट बस्ती में ही एक-दूसरे से लड़ते रहे। फिर बस स्टैंड पर भी मारपीट की। इस दौरान शफीक बुरी तरह से घायल हो गया। वह अपना इलाज कराने के लिए रानी धनराज कुंवर अस्पताल पहुंचा। वहां उसका इलाज शुरू हुआ था कि तभी आरोपी मुन्ना यादव अपने दो साथियों के साथ पहुंच गया।

युवक को पीट-पीट कर अधमरा कर दिया।

युवक को पीट-पीट कर अधमरा कर दिया।

पुलिस पहुंची तो भाग निकले आरोपी

आरोप है कि उन लोगों ने अस्पताल में घुसते ही लाठी-डंडे से हमला कर दिया। अस्पताल की नर्सों और अन्य स्टाफ ने बीच-बचाव किया तो उन्हें भी मारने के लिए दौड़ा लिया। इस पर स्टाफ डर कर भागे और खुद को कमरे में बंद कर अपनी जान बचाई। इसकी जानकारी डॉक्टर दीपक राज को मिली तो वह भी अस्पताल पहुंचे। इस पर आरोपियों ने उन पर भी हमला कर दिया। डॉक्टर राज ने खुद को किसी तरह कमरे में बंद कर डायल-112 को सूचना दी। जब तक पुलिस पहुंची आरोपी वहां से भाग निकले।

अस्पताल के मारपीट के विरोध में प्रदर्शन करता स्टाफ।

अस्पताल के मारपीट के विरोध में प्रदर्शन करता स्टाफ।

गिरफ्तारी की मांग पर अस्पताल के गेट पर बैठा स्टाफ
अस्पताल में हुए गैंगवार मामले में स्वास्थ्य कर्मी हड़ताल पर चले गए हैं। अस्पताल के गेट के बाहर वो धरना देने बैठ गए। स्टाफ लगातार अभद्रता करने वाले मुन्ना यादव समेत दो अन्य के खिलाफ FIR दर्ज कर उनकी गिरफ्तारी की मांग कर रहा है। घटना की सूचना मिलने पर कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची और कर्मचारियों को समझाने का प्रयास किया। इस दौरान करीब दो घंटे तक मरीजों का उपचार और ओपीडी बंद रही। इसके बाद कर्मचारी माने और हड़ताल खत्म की।

स्वास्थ्य कर्मियों को सुरक्षा प्रदान करने की मांग।

स्वास्थ्य कर्मियों को सुरक्षा प्रदान करने की मांग।

पुलिस बोली- शिकायत नहीं मिली

पुलिस का कहना है कि दोनों गुट की ओर से क्रॉस FIR दी गई है। मामले की जांच कर रहे हैं। इसके बाद आरोपियों पर कार्रवाई की जाएगी। वहीं पुलिस का यह भी कहना है कि अस्पताल की ओर से अभी तक कोई शिकायत नहीं मिली है। उनकी ओर से शिकायत आने पर आगे कार्रवाई करेंगे। हालांकि इस पूरी बवाल का वीडियो CCTV में कैद हो गया है। इसके बाद भी पुलिस को अभी रिपोर्ट और शिकायत का इंतजार है।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest