Tuesday, October 4, 2022

कांग्रेस की बैठक में तीखी नोकझोंक: मनमानी नियुक्तियों के आरोप पर नाराज PCC चीफ, बोले-पहले भाजपा-JCCJ से आए हुए लोगों की होती थी नियुक्तियां

More articles


  • Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Raipur
  • Heated Argument In Congress Meeting: The State President Was Furious When He Was Accused Of Arbitrary Appointment, Said Earlier Appointments Were Made For Those Who Came From BJP JCCJ

रायपुर8 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

संगठन चुनाव को लेकर हुई कांग्रेस की बैठक में मंगलवार को तीखी नोकझोंक हुई है। पार्टी पदाधिकारियों ने प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम पर मनमानी नियुक्तियों का आरोप लगाया। झल्लाए प्रदेश अध्यक्ष ने भी कह दिया कि पहले किस तरह नियुक्तियां होती थीं, यह सब जानते हैं। भाजपा और जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ से आए लोगों को संगठन सहित निगम-मंडलों में नियुक्त कर दिया गया था।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, प्रदेश संगठन के चुनाव प्रभारी हुसैन दलवाई की मौजूदगी में ब्लॉक चुनाव अधिकारी, जिला अध्यक्षों और प्रदेश पदाधिकारियों की बैठक शुरू हुई। बात शुरू हुई तो प्रतिमा चंद्राकर ने बीआरओ की नियुक्ति का मामला उठाया। उन्होंने कहा, बार-बार सूची बदली गई। यह ठीक नहीं है। प्रेमचंद जायसी ने कहा, बीआरओ के लिए उनसे भी नाम मांगे गए थे, लेकिन उनमें से किसी की नियुक्ति नहीं हुई। राजेंद्र साहू का कहना था कि बंद कमरे में नियुक्तियां हो रही हैं। किसी को पद दिया जा रहा है और हटा दिया जा रहा है।

मंगलवार को हुई कांग्रेस की बैठक काफी गर्म रही।

मंगलवार को हुई कांग्रेस की बैठक काफी गर्म रही।

चंद्रशेखर शुक्ला ने खुद का मामला उठा दिया। उनका कहना था, उनको प्रभारी महामंत्री पद से हटाने के लिए नोटिस भी नहीं दिया गया। इन आरोपों से झल्लाए प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम ने चंद्रशेखर शुक्ला से कहा, प्रभारी महामंत्री जैसा पदाधिकारी 15-15 दिनों तक ऑफिस से बाहर रहे तो आम कार्यकर्ताओं की सुनवाई कैसे होगी। सबको पता है कि उनसे पहले नियुक्तियां कैसे होती थीं। भाजपा और जोगी कांग्रेस से आए लोगों को पद बांट दिए गए। उन्होंने हर स्तर पर इसकी शिकायत की है।

दिल्ली रवाना हुए मोहन मरकाम

कांग्रेस की बैठक खत्म होने के बाद प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम दिल्ली रवाना हो गए। बताया जा रहा है कि वे वहां केंद्रीय नेतृत्व से मुलाकात की कोशिश में हैं। वहां नियुक्तियों को लेकर चर्चा होनी है। बताया जा रहा है कि एक-दो दिनों में चार पदाधिकारियों को दिल्ली बुलाया जा सकता है।

अगले दो सप्ताह में ब्लॉक समितियों के चुनाव हो जाएंगे

इधर बैठक में संगठन चुनाव की तैयारियों पर भी चर्चा हुई। संगठन चुनाव प्रभारी हुसैन दलवाई ने सभी ब्लॉक चुनाव अधिकारियों से कहा, वे अपने ब्लॉक में पहुंचें। वहां बैठक कर सर्वसम्मति से अध्यक्ष का नाम तय करने की कोशिश करें। जहां सर्वसम्मति नहीं बन पाएगी वहां चुनाव होगा। बताया जा रहा है कि ब्लॉक समितियों का चुनाव दो सप्ताह में पूरा करा लेने को कहा गया है।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest